क्या है! परंपरा को निभाने में रुकी शादी, दुल्हन की सास बिना सात फेरे चली

बिहार के बांका जिले के धोरया प्रखंड क्षेत्र में परंपरा और कानूनी बाध्यताओं के चलते एक वैवाहिक कार्यक्रम में अजीबोगरीब स्थिति पैदा हो गई और अंत में एक दुल्हन को बिना सात फेरे लिए अपने पति को छोड़ना पड़ा. एक पुलिस अधिकारी के अनुसार कुशाहा गांव निवासी रसिकलाल मुर्मू की बेटी बासमती मुर्मू की शादी बंसी थाना क्षेत्र के शोभा गांव निवासी अरविंद मंडल के साथ हुई थी. 5 अप्रैल को बारात भी बड़ी धूमधाम से हुई और सारी रस्में भी निभाई गईं.

इसी क्रम में पुलिस गांव पहुंची और ग्राम प्रधान गोपाल सोरेन को शराब रखने के आरोप में गिरफ्तार कर लिया गया. उसके घर से दो से तीन लीटर शराब बरामद हुई है। रीति-रिवाजों और परंपरा के अनुसार, विवाह समारोह ग्राम प्रधान के बिना नहीं किया जा सकता है। ऐसे में शादी की रस्में टाल दी गईं और शादी रुक गई।

ALSO READ  लोग समझ गए कि भूतों ने ली जान, सच ने उड़ा दी सबकी नींद
Updated: May 20, 2021 — 12:36 pm