UP में बहू बनकर आई मध्य प्रदेश की डॉगी रश्मि, जानें क्या है पूरा मामला

अभी तक आप लोगों ने काम, मन्नत और मनोकामना पूरी कराने के लिये तमाम धार्मिक अनुष्ठानों के बारे में तो सुना होगा.  लेकिन, मध्य प्रदेश के निवाड़ी जिले से एक ऐसी खबर सामने आई है, जहां गांववालों ने इंद्रदेव को मनाने के लिए एक अनोखा अनुष्ठान कराया. दरअसल, जिले के पुछीकरगुवा गांव में लोगों ने गांव की खुशहाली के लिये दो मूक जानवरों की शादी कराई. यहां हिंदू रीति-रिवाज से कुत्ता गोलू और रश्मि की शादी बड़े ही धूमधाम से कराई गई. इस दौरान 800 लोगों को बकायदा भोज भी कराया गया.

अभी तक आप लोगों ने काम, मन्नत और मनोकामना पूरी कराने के लिये तमाम धार्मिक अनुष्ठानों के बारे में तो सुना होगा.  लेकिन, मध्य प्रदेश के निवाड़ी जिले से एक ऐसी खबर सामने आई है, जहां गांववालों ने इंद्रदेव को मनाने के लिए एक अनोखा अनुष्ठान कराया. दरअसल, जिले के पुछीकरगुवा गांव में लोगों ने गांव की खुशहाली के लिये दो मूक जानवरों की शादी कराई. यहां हिंदू रीति-रिवाज से कुत्ता गोलू और रश्मि की शादी बड़े ही धूमधाम से कराई गई. इस दौरान 800 लोगों को बकायदा भोज भी कराया गया.

बारात का धूमधाम से किया स्वागत

बता दें, इस शादी में बाराती बड़े धूमधाम से बैंड बाजे और आतिशबाजी करते हुए पुछीकरगुआ बारात लेकर पहुंचे. जहां हिंदू रीति रिवाज अनुसार जयमाला कार्यक्रम करवाया गया. इसके बाद बारातियों का भव्य स्वागत भी किया गया.

डॉगी रश्मि का ससुराल उत्तर प्रदेश

निवाड़ी जिले के ग्राम पुछीकरगुआ निवासी मूलचंद नायक ने अपनी रश्मि नाम की कुतिया की शादी उत्तर प्रदेश के बकवा खुर्द निवासी अशोक यादव के गोलू नाम के कुत्ता के साथ हिंदू रीति-रिवाज अनुसार कराई. इसके साथ ही मूलचंद नायक व उनके परिजनों द्वारा नम आंखों से कुतिया रश्मि को विदाई की गई.

ALSO READ  महान अवसर: अविश्वसनीय! 1 रुपए का नोट बेचकर कमा सकते हैं 45,000 रुपए, जानिए कैसे?

दोनों परिवार की सहमति से शादी

कुत्ता मालिक अशोक यादव ने बताया कि गांव में पेयजल समस्या विकराल बनी हुई है. मूलचंद्र नायक और अशोक यादव दोनों की सहमति हो जाने से शादी रचाई गई. इसके साथ ही गांव वालों ने भगवान से प्रार्थना की, कि गांव में खुशहाली लौट आए और पेयजल की समस्या से छुटकारा मिल जाए. बता दें कि यहां पीने के पानी के लिए महिलाओं को घंटो लाइन में लगकर पानी भरना पड़ता है. इसी कारण मध्य प्रदेश की कुतिया से शादी की गई. ताकि भगवान दूसरे प्रदेश से प्रसन्न होकर गांव में व्याप्त पेयजल समस्या से निजात दिलाये.

Updated: May 15, 2021 — 1:50 pm